20/08/08

कब तक

कया हे यह सब,

2 comments:

  1. भाटिया जी मन्नै तो देख देख कै
    चक्कर से आवण लाग गे !
    ज्यादती है !

    ReplyDelete
  2. ji..aise hi kuchh najare maine bhi dekhe hai.
    waise aapke blog me bahut saari jankaariyan milti hai jo rochak aour gyanwardhak hai. sabke liye dhnaywaab.

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।