22/08/08

कया आप जानते हे ? सुअर

कया आप जानते हे दुनिया के पहले १० देश कोन से हे जंहा सुअर बहुत पाले लाते हे,
अजी हम बतायेगे, लेकिन हमेशा की तरह से गलियां तो माफ़ करे गे ना, तो नीचे देखे,
क्रम से १० देश...
1................China
2................U S A
3................Brazil
4................Garmany
5................Spain
6................Vietnam
7................Maxico
8...............Poland
9...............Russia
10.............France
गलती माफ़

11 comments:

  1. रोचक जानकारी है ! पर गनीमत है हमारे
    देश का नाम कही भी नही है ! वैसे ये
    प्राणी हमारे यहाँ हर गली मोहल्ले में
    पाया जाता है !

    ReplyDelete
  2. भारत में भी बहुत सूअर हैं

    ReplyDelete
  3. main to soch raha tha ki suar india me bhi paale jate hai.....

    jankari ke liye shukriya

    ReplyDelete
  4. galat bhatia jee.main to aapko parkhi aur vidwaan manta tha.aapne humare deshko gay ke mamle awaal kaha hum man gaye kyonki yahan aapne saando ko nahi dekha.koi baat nahi bail kaho ya gay khitaab ghar me tha aadmi ko mile aya.... magar suar ke mamle me to main nahi manuga aap is desh ke karodo suaron ka ek sath apmaan nahi kar sakte.samast rajnaitik ya anaitik dalon ki or se is protest ko sweekaren.china to kide-makaude ke mamle me bhi humse pichhe hai wo bhala humare sueron ko kya takkar dega

    ReplyDelete
  5. apko pahle to dhanyvad jo information aapne jutaai uske liye




    bharat ne boxing ka bronz jeeta aapko iski bhi badhai

    ReplyDelete
  6. चलिए सही सही जानकारी का पता चला वरना हम तो ये ही सोचते थे कि भारत में ही बहुत हैं।

    ReplyDelete
  7. हमारे यहाँ हर गली मोहल्ले में पाये जाते हैं, कई तो संसद भवन और विधान सभाओं तक पहुंच जाते हैं। इस हिसाब से सबसे पहला नंबर हमारे देश का ही होना चाहिये, आपकी सूचि ही गलत है।

    ReplyDelete
  8. रोचक जानकारी-कहीं गल्ती है गिनती में-५४२ तो लोकसभा और ढेरों विधानसभाओं में पल रहे हैं, उनको कौन गिनेगा??

    ReplyDelete
  9. आप सभी का धन्यवाद, समीर जी मे माफ़ी चाहता हू मेने इस ५४२ को गिना नही , नही तो शायद हमारे यहां ज्यादा होते,

    ReplyDelete
  10. श्री कृष्ण जन्माष्टमी की ढेरों शुभकामनाएं |


    हिन्दी में लिखने की लिए पर जायें

    http://hindiinternet.blogspot.com/

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।