04/09/08

अनोखी पहेली

अजी यह सच मे अनोखी सी पहेली हे, लेकिन मुस्किल नही ...
क्या आप बुझेगे, तो पढिये पहले पहेली फ़िर चाहे तो जबाब दे दें...
दो बेटियां ओर दो माता बाजार जाती हे , खरीदारी करने के बाद उन्हे याद आया अरे कल तो करवा चोथ हे, चलो थोडा फ़ल खरीद ले, एक दुकान पर जा कर उन्होने कुछ सेव , नाशपति, अमरुद वगेरा खरीदे, तभी उन की नजर ताजे ओर मीठे आमो पर गई, ओर सभी का मन किया कि सुबह सुबह हम आम खाये, सो उन्होने सारे आम तुलवा लिये।

सुबह जब सब तेयार हो गये , ओर भोजन करने लगे तो वहां आम सिर्फ़ तीन ही थे, अब सभी महिलऎ बिना काटें एक एक आम खाना चाहती हे,ओर कोई झगडा भी नही चाहती , अब केसे बाटें यह लोग सारे आम, ओर यहां पर वही लोग हे जो सब मिल कर बाजार गये थे।

तो बताईये सभी को उन के हिस्से का पुरा पुरा आम केसे मिले???

12 comments:

  1. दो माता और दो बेटी, कुल तीन सदस्‍य ही हुए। मान लें 'क' की बेटी 'ख' है और 'ख' की बेटी 'ग'। इस तरह पहले क और ख दो मॉएं हुईं फि‍र ख और ग दो बेटि‍यॉं। इस तरह इन तीनों को एक एक आम मि‍ल जाएगा।

    ReplyDelete
  2. well answer is that kee, two mothers and two daughters are in fact only three in noumbers han. one daughter, one mother , and one grandmother (grranny). so they are three in noumbers but by relations two are mother and two are daughter. (m i right Sir)
    so each one of them can take one mango. (three mango, three womans)

    Regards

    ReplyDelete
  3. isko saral kehte hain,are ye to bloggeron ki gazal se bhi kathin hai. ha ha ha ...... bhatia saab apan pehle hi bata chuken hi ki ganeetbaazi apne se hoti nahi, so surrender.kal jawab padh lenge

    ReplyDelete
  4. राज जी,
    वो तीनो भी एक ही हैं, यानि पहली सास, दूसरी उसकी बहू और तीसरी उसकी भी बहू...
    तो तीनो को एक एक आम मिलेगा...
    पहली वाली की दो बहू..
    सबसे छोटी की दो सास..
    क्यों सही कहा ना...?

    ReplyDelete
  5. अरे पर बाकी आम किसने खाए। :)

    ReplyDelete
  6. swal ka jawab padh liya lekin karva chauth tha ya teej ?

    ReplyDelete
  7. आप सब को बधाई आप सभी जीत गये, आप सभी का धन्यवाद

    ReplyDelete
  8. जितेन्द्र भगत जी एकदम सही हैं-उनको एक आम दे दिया जाये. :)

    ReplyDelete
  9. सर जी की सि‍फारि‍श और मेरी फरि‍याद- मुझे एक आम तो मि‍लना ही चाहि‍ए ।

    ReplyDelete
  10. माफ कीजि‍एगा भाटि‍या जी, आपने जहाँ अपना परि‍चय 'आम आदमी' लि‍खा है, वहाँ से मैंने आम ले लि‍या है। अब आप सि‍र्फ आदमी रह गए, और मैं आम...... (कि‍सी का आम खाना आसान बात है क्‍या।)

    ReplyDelete
  11. अजी खाओ जी भर कर खाओ

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।