21/12/08

बुझो तो जाने??? जबाब

नमस्कार जी, हम घोडे है जी सही जबाब यही है.

आज अस से पहले मोहन जी आये गलत जबाब के साथ, अगर वो थोडा भी ध्यान से देखते तो रंग से पता चलता है कि यह हमारे तांगे वाले घोडे है,
फ़िर सही जबाब के साथ आये वरूण जयस्वाल जी, उन्होने कहा कि शायद घोडा ही है, तो आज का प्रथम विजेता के रुप मै वरुण जी आये.
अरे मोहन जी हाथी ओर भेंस दोनो ही नंगे होते है बाल दोनो के ही नही होते.
फ़िर आई कविता जी ओर उन्होने इसे भैंस का नथुना बताया, लेकिन भैंस तो काली होती है,शायद आप ने जल्दी मै गोर नही किया, चलिये अगली बार सही,
आज अर्विंन्द जी भी नही सही बता पाये,सील या ,ऊँट या फिर किसी और जानवर का ! कह कर जबाब गलत दे दिया, चलिये आप भी अगली बार जरुर जीते गे,
मोहन जी फ़िर आये ओर इसे चिडिया का नथुना बताया, अरे बाबा....
फ़िर शर्मा जी आये उन्होने तो मुझे बचपन ही याद दिला दिया, हमारे पंजाब मै किसी को चक्कर मै डालने को कहते है भंबलभुसे जो अकसर मेरी मां मुझे कहती थी.

फ़िर आये विनय जी ओर २००% गलत जबाब दे कर चलेगे.
फ़िर दुवई से अल्पना जी आई ओर सही जबाब दे कर दुसरा स्थान प्राप्त किया,अब आप का नेट ठीक चल पडा होगा,
फ़िर आये हमारे अनिल जी , अरे अनिल जी नाक की कोई बात नही हम सब साथी है, फ़िर यह तो एक खेल है, जीत हार तो लगी ही रहती है,
कविता जी ने फ़िर से हिम्मत दिखाई ... ओर सही जबाब देते देते फ़िर से गलत जबाब दे दिया, चलिये शुभ्कामनये अगली बार जरुर कोशिश किजिये .
प्रशांत जी को लगा कि यह है तो कुछ ना कुछ लेकिन क्या ??
फ़िर आये हमारे ताऊ रामपुरिया जी ओर सायाने बच्चे की तरह से अलपना जी की उगली पकड कर तीसरे स्थान पर आ गये फ़ेल होते होते, चलिये नकल मारने का कुछ तो लाभ हुआ.
महेन्दर मिश्रा जी भी सीधे राजस्थान पहुच गये ओर ऊंट को पकड लिया.
शोभा जी मेरी मां भी अध्यापक थी इस लिये उन की आदत मुझे पड गई, इसी लिये प्रश्न बहुत पुछता हुं.
पी एन सुबर्मनय साहब जी ने तो सीधा बेचारे हनुमान भगत का कान ही पकड लिया, चलिये अब छोड दे इस बेचारे ने कुछ नही किया.
पिंटु जी ताऊ की भेंस पकड लाये, पिंटु जी जल्दी से वापिस बांध आओ ताऊ की भेंस, वरना ताऊ का भेजा आज कल अपनी जगह नही.
मोहन जी ने फ़िर से हिम्मत दिखाई ओर भीष्‍म पिता की तरह से लेकिन ताऊ की भेंस के सींग मै ही फ़स गये.

प्रवीण त्रिवेदी जी अपने ऊंट पर बेठ कर आये लेकिन उन का ऊंट रुका ही नही सीधा चला गया.
मोहन जी पुरे विश्वाव के साथ आये ओर अल्पना जी को भी ले डुबना चाहते थे, लेकिन ऎन मोके पर नव्यवेश नवराही ने जी बात समभाल कर खुद भी चोथे विजेता के रुप मे स्थान पा लिया.
ओर साथ ही डी के शर्मा जी "वत्स" जी ने भी सही जबाब दे कर पांचवा स्थान विजेता के रुप मे ले लिया.
फ़िर आये हमारे समीर जी, पता नही क्यो आज ताऊ के लठ्ठ से डरे हुये थे, मुझे भी डरा रहे थे, कि चंपा जी ही है... लेकिन डर तो लगा लेकिन फ़िर भी हम ने सोचा शायद रात तक ताऊ का दिमाग काम करने लगे ओर मुझे माफ़ कर देगे.
नितिन व्यास जी भाई गलती तो सब से होती है, फ़िर आप की बीबी सुबह से काम करते करते थक गई होगी इस लिये सही नही पहचान पाई, वो पशु चिकित्सक ही है उन का धन्यवाद( आप सब का बाद मै करुगां)
अरे यह क्या समीर जी मुझे डरा कर ओर आप निडर हो कर एक दम से पार्टी बदल ली, अरे ताऊ को पता चल गया तो ?? ओर समीर जी झट से अल्पना पार्टी मे आ कर ६ वोटो से जीत कर विजेताओ मे छटे स्थान पर आ गये.ओर जाते जाते ताऊ की भेंस के मुस्कान जी को थमा कर उन्हे हरा दिया. वर्षा जी भी ऊंट ऊंट ढुढती रही ओर ......
ओर फ़िर हमारे वकील साहब दिनेश जी आये ओर विलकुल एक वकील की तरह से अपना व्यान दे कर सावित कर दिया कि यह घोडे का ही मुहं है, ओर सातवे विजेता के रुप मै आये.
आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद, विजेताओ को मेरी तरफ़ से बहुत बहुत बधाई, बाकी आप सभी को शुभकामनय़े.
फ़िर से धन्यवाद, किसी का नाम भुल जाऊ तो माफ़ करे.

10 comments:

  1. वरुण जी और बाकी विजेताओं को बधाई.--
    दो दिन से सर्वर down है.आज सुबह जवाब लिखने के लिए कई बार कोशिश की मगर साइन up नहीं हो रहा था.
    अभी भी कुछ साईट खुल नहीं रही हैं.मोहन जी, मेरे जवाब में देरी होने का कारण सर्वर down होने को बताने पर आप की कही बात-- -' नाच न जाने आँगन तेडा ' मुझे अच्छी नहीं लगी-
    खैर,मैं जब जवाब के आगे १००% लिखती हूँ तो पूरी तसलली कर के ही लिखती हूँ.
    इस में कई बार अक्सर देर भी हो जाती है.मैं इस जवाब के तर्क भी लिखती और किस साइड का nostril है आदि और भी डिटेल में लिखती मगर--नेट से कुछ भी पोस्ट नहीं हो पा रहा था-मोहन ji-मैंने horse riding सीखी हुई है.चने अपने हाथ से खिलाये हैं..इस का मुंह बहुत अच्छी तरह से पहचान सकती हूँ- खैर --भूल जाईये.
    मैं सिर्फ़ बूझने के लिए पहेलियों में भाग ले रही हूँ-जीतने की कोई लालसा नहीं है-
    राज Sir से मैं तो यही प्राथना करुँगी कि अगली किसी भी पहेली में सफलता पर मेरा नाम विजेताओं में शामिल न करें-
    आभार सहित.

    ReplyDelete
  2. अल्पना जी मोहन जी ने शायद मजाक मै कह दिया होगा, उन की तरफ़ से मै माफ़ी मांग लेता हूं आप बुरा ना माने,अरे केसे नही अब तो लोग आप को सफ़लता की कूंजी मानते है, ओर आंखे बन्द कर के आप के साथ चल पडते है, चलिये अब सब ठीक है मे मोहन जी को समझ दुगां.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  3. राज जी मैं प्रथम नही बस तुक्के का विजेता हूँ |
    मेरी तरफ़ से अल्पना जी को धन्यवाद कीजिये वो ही सटीक बता सकीं |
    अगली पहेली का इन्तजार रहेगा |
    धन्यवाद |

    ReplyDelete
  4. वरूण जी और सभी विजेताओं को बधाई।

    ReplyDelete
  5. सभी विजेताओ को हार्दिक बधाई !

    रामराम !

    ReplyDelete
  6. सभी विजेताओ को बधाई।वैसे हमने भी सही ही कहा था,तस्वीर आखिर नाक की है।

    ReplyDelete
  7. सभी वितेजाओं को बधाई..

    ReplyDelete
  8. sabhi vijrtao ko bahut-bahut badhai!

    ReplyDelete
  9. सभी विजेताओं को हार्दिक बधाई
    साथ ही अल्‍पना जी अगर आपको मेरा वो नाच न जाने आंगन टेडा कहना बुरा लगा तो उसके लिए आई एम वैरी वैरी सॉरी बाकी मेरे कहने का मतलब केवल और सिर्फ केवल एक मजाक है जिसका आप इतना बुरा मानोगे मुझे अंदाजा भी नहीं था तो रही बात कि आज के बाद मैं आपसे तो क्‍या किसी और के साथ भी मजाक नहीं करूंगा अबकी बार के लिए सभी से सॉरी

    ReplyDelete
  10. Mohan ji,मुझे आप के कथन में तल्खी और वह statement एक ' ताना 'लगा था इस लिए अपनी अप्रसन्नता जाहिर की थी.
    आप कहते हैं वह शुद्ध मज़ाक था तो it's ok-everything is clear.-now Cheer up!!
    [chapter close.]

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।