07/08/08

पहेली बुझो तो जाने...चीज

चलिये देखे आज को इस पहेली का हल निकालता हे,कोई हिसाब किताब नही, बस थोडा सा सोचना ही हे,
क्या आप बताये गे ऎसी कोन सी चीज हे, जो गरीबो के पास हे, ओर अमीरो के पास नही हे, ओर अमीर उस चीज को पाना चाहते हे, लेकिन जो भी उस चीज को खाता हे, मर जाता हे??
यह सवाल यहां स्कुल के बच्चो ने तेयार किया हे, जबाब हमारे पास ही हे, हम उस जबाब को रोजाना सेकडो बार बोलते भी हे. ओर सुनते भी हे,
शायद पिछले २ मिन्ट मे ही आप ने उस जबाब को दोहराया हो..
अगर आप मे से किसी को सही जबाब नही मिला तो, जबाब कल यही मिलेगा

13 comments:

  1. kya bataun bhatia saab na main ameer hun aur na gareebon se kuch chahta hun,aur na hi marna chahta hun.isliye dimag par zor dale bina kal ka intezaar kar lunga.ise bahane kuch naya sikhane mile

    ReplyDelete
  2. नींद, आराम ,सुकून कुछ भी कह लीजिए

    ReplyDelete
  3. भाटिया जी और शिव कुमार जी मेरा नाम नीतीश है बंधुओं प्लीजजजजजज

    ReplyDelete
  4. अभी तक एक जबाब सही हे कोन सा ???

    ReplyDelete
  5. अजी कोशिश किजिये,जबाब आप के सामने ही तो हे
    विनीता जी,नीतीश राज जी,राम पुरिया जी,सुरेश जी,ओर मेनका जी, आप मे से एक का जबाब बिलकुल सही हे,शायद अनिल जी थोडी मदद कर दे...

    ReplyDelete
  6. बुलाने के लिये शुक्रिया। जबाव है "nothing"!

    ReplyDelete
  7. चलिये हम बता दे की इस पहेली की विजेता सब से पहला जबाब देने वाली विनिता जी हे,अनिल भाई यही बात आप हिन्दी मे लिख देते तो आप भी विजेता बन जाते,
    गरीब के पास *कुछ नही* हे, अमीर को गरीब से *कुछ नही* पाना चाहता, ओर अगर आदमी *कुछ नही*खाता तो भुख से मर जाये गा.
    धन्यवाद विनिता जी सही जबाब देने केलिये, ओर आप सब का भी बहुत बहुत धन्यवाद

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।