23/11/08

बुझो तो जाने ?? हल

यह फ़ुल इमली का ही है
नमस्कार... इस बार की पहेली इतनी कठिन नही थी, मेने तो सोचा था कि, मुझे बहुत सारे जबाब सही आयेगे, लेकिन एक जबाब को छोड कर किसी का जबाब सही नही आया,हम अपने आसपास कितना ध्यान देते है, यह फ़ुल हमारे आसपास ही होता है, लेकिन हम ने इसे कभी इतने ध्यान से नही देखा, कितना सुंदर फ़ुल है, इस पहेली का हल जानने के बाद, आप इसे गर्मियो मे जरुर देखे, हमारे आसपास कितनी सुंदरता बिखरी पडी है.


इस पहेली के विजेता हमारे ताऊ राम्पुरिया जी है,जेसा कि उन्होने दावे से कहा था कि अगली पहेली को वो जीत कर दिखायेगे, ओर इस पहेली के पहले ओर आखरी विजेता हमारे सब के प्रिया ताऊ जी है, आप सब का बहुत बहुत धन्यवाद, आप सब ने भी हिस्सा लिया ओर अपने अपने जबाब भी दिये, ओर मुझे खुशी हुयी की सब ने ट्राई तो की, जीत हार तो लगी रहती है.

जल्द ही फ़िर से नयी पहेली ले कर आऊगां.

आप सब का धन्यवाद

10 comments:

  1. hum to haar gaye:( koi gal nahi agli baar try karenge:):)

    ReplyDelete
  2. कोई बात नहीं अगली बार !

    ReplyDelete
  3. ताउ की दृष्टि की दाद देनी होगी। उन्‍हें बधाई।

    ReplyDelete
  4. अब ताऊ यहाँ है तो वही जीतेंगे ना |आख़िर ताऊ की नजर भी तो पारखी जो ठहरी |

    ReplyDelete
  5. असल में भाटिया साहब ये इमली के पेड़ हमारे शहर में अब भी बहुत बच गए हैं ! मेरे घर के पास का चोरहा चार अम्बा ( आम) चोराहा कहलाता था पर एक डाली भी आम कीअब नही है ! कभी यहाँ बहुत बड़े २ चार आम के पेड़ एक लाइन में खड़े थे ! ऐसे ही दुसरे पास के चोराहे का नाम है तीन इमली ! यहाँ तीन विशाल ईमली के पेड़ आज भी खड़े हैं ! ये फूल जब बिखर जाते हैं तो इनको खाने में ये बड़े स्वादिष्ट और खट्टे मिठ्ठे लगते हैं ! बहुत शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  6. इसीलिये तो ताऊ हैं .और जब तक घर में ताऊ जी हैं बच्चों को फिक्र की क्या जरूरत है सर जी | मेरा भी दावा है कि अगली बार भी आप की पहेली को ताऊ जी ही जीतेंगें .कब अगली पहेली बुझा रहें हैं ?ताकि मैं भी अपने दावे की पुष्टि कर संकूं |

    ReplyDelete
  7. Jitni khatti imli,us sey jyada sundar us ka phool!haar swikar li hai.

    ReplyDelete
  8. इतने सुंदर फूल के दर्शन कराने के लिए आप ज़रूर प्रशंसा के पात्र हैं. ताऊ तो फ़िर तू ही हैं, उनके रहते किसी भी भतीजे-भतीजी की क्या मजाल थी कि सही जवाब बोल जाते.

    ReplyDelete
  9. ताउजी को बहुत बहुत बधाई। आपको भी इतने सुंदर फूल से परिचित कराने के लिए बहुत बहुत धन्‍यवाद।

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।