13/12/08

बुझो तो जाने ?? जबाब

ऎलो जी आज राज भाटिया की जगह ताऊ बुश पुरिया जी ने इतना आसान सवाल पुछा की, ताऊ बुश तो हेरान रह गये, अब हम तो चले परसेश अपनी गठरी ओर कमबली ओर लठ्ठ ले कर, लेकिन जाते जाते आप को अपने विजेताओ का नाम भी बताते जाये..... अजी हम हिन्दी मै ही नाम बातयेगे.
हमने तो सोचा था कुछ हिंट चलेगे, काफ़ी गलत जबाब आयेगे, लेकिन हेरान रह गये आप सब के जबाब देख कर, सच मै आप सब बहुत जागरुक हो गये है, यह फ़ुल बहुत मुस्किल से ढूढ कर लाया था, कि शायद ही कोई बता पाये, तो चलिये अब विजेतओ की ओर चलते है........

सब से पहले सही जबाब आया कविता वाचक्नवी जी का, ओर आज की प्रथम विजेता भी कविता वाचक्नवी जी हुयी, फ़िर दुसरे स्थान पर सही जबाब ले कर आये Pt.डी.के.शर्मा "वत्स" , इस हिसाब से दुसरे विजेता हुये हमारे डी के शर्मा जी, ओर साथ ही दिवाकर प्रताप सिंह ने विजेता के रुप मे तीसरा स्थान प्राप्त किया,लेकिन इन तीनो ने साथ मे यह भी लिखा की लगता है, शायद , हो सकता है.

इस के बाद बिलकुल सही ओर पुरे विश्वास के साथ सीमा जी ने सही जबाब दिया, फ़िर seema gupta जी के साथ Arvind Mishra जी,kmuskan जी, ओर अल्पना वर्मा जी ने हां मे हां मिलाई, ओर अल्पना जी ने साथ मे ही पुरे विश्वास के साथ कविता जी को बधाई भी दे दी, साथ मे एक नारा भी लगा दिया .... नारी शक्ति जिन्दा वाद.... बिलकुल सही कहा आप ने हम क्या यह पुरी दुनिया ही बिना नारी के बन ही नही सकती इस लिये आप सब के साथ हम सब भी कहते है नारी शक्ति जिन्दावाद,
ओर सभी विजेताओ को मेरी ओर हम सब की तरफ़ से बहुत बहुत बधाई, शेष सभी साथियो को भी बधाई , ओर आप सब का धन्यवाद जिन्होने भी इस पहेली मे अपना अपना योग्यदान दिया, अपना किमती समय दिया, तो अब हम ताऊ बुश पुरिया जी अपने गांव वापिस जा रहे है,
आप सब को राम राम जी की

13 comments:

  1. आपको धन्यवाद।
    मेरे उत्तर में कहीं भी लगता है, शायद या हो सकता है आदि को अभिव्यक्त करने वाला एक भी शब्द नहीं था।
    पहले उत्तर में मैंने लिखा था -
    १ )
    कविता वाचक्नवी said...

    मेरे विचार से यह Saffron का ही फूल है।

    सबसे अन्त में पुन: अल्पना जी के उत्तर बदलने के बाद मैंने लिखा -

    २)
    कविता वाचक्नवी said...

    अल्पना जी, लोकेशन पर भी ध्यान दीजिए। पहेली वाला फूल शुद्ध भारतीय फूल है। जबकि -
    Location
    Colchicum autumnal is the most well known and widely cultivated of the autumn crocuses. It comes originally from Europe where it grows wild from southern England, Spain and Portugal to Russia.

    खैर, उत्तर का सही- गलत होना या किसने क्या उत्तर दिया आदि सब बतें गौण हैं। क्योंकि इसमें भावना प्रतियोगिता की न होकर ब्लॊगर-बन्धुओं की पारस्परिकता की थी। मैं केवल आपके ब्लॊग पर उपस्थिति दर्ज़ कराने आई थी और उसका वही तरीका था।
    पुन: धन्यवाद। बन्धु!

    ReplyDelete
  2. विजेताओं को बधाइयां । हम तो इसी में खुश है कि जानकारी बढी ।

    ReplyDelete
  3. हमने भी कविता जी की हां मे हां मिलाई थी ! सो हम भी विजेता हो गये !:)

    ReplyDelete
  4. और हां सब विजेताऒ को हार्दिक बधाईयां

    ReplyDelete
  5. धत तेरे की
    अल्‍पना जी आखिर करा ही दी ना हार कितनी मेहनत की थी हमने नकल के लिए पर सही है नकल के लिए अकल चाहिए
    चलो कविता जी को और सभी विजेताओं को बहुत बहुत बधाई

    कोई मुझे भी तो बधाई दे दिया करो क्‍या हुआ मेरा नाम नहीं छपा मुझे तो जवाब का पता था लेकिन मैंने बताया नहीं क्‍योंकि फिर आपका नंबर कैसे आता


    तुम्‍हारी भी जय जय
    हमारी भी जय जय
    राज जी की जय जय
    विजेता की जय जय
    पढने वाले सभी की जय जय जय जय जय जय

    एक बात और ताऊ ताई जी ने मन्‍ने गलत जवाब बताया था मैंने फोन किया था शुक्र है कि मैंने कौन बनेगा करोडपति से फोन नहीं किया था वरना अमिताभ बच्‍चन के सामने तो मेरी नाक ही कट जाती

    ReplyDelete
  6. kavita ji aur sabhi vijeta ko bahut badhai:)

    ReplyDelete
  7. सभी विजेताओं को बहुत-बहुत बधाई लेकिन भाटिया जी को खास बधाई कि उन्होंने इतने बड़े खलनायक को जोकर की पोशाक में पेश किया। आपका जवाब नहीं।

    ReplyDelete
  8. ha !ha! ha ! sahi hai-pahle maine kavita ji ki baat mein haami bhari thi---yah confusion Raj ji ke comment ke bad hua-khair...

    [lekin sach mein agar aap dhyan se dekhen to yah kesar ka phool se jyada C.Autumn lag raha hai-- kyonki kesar ke strands[stamina] long aur bahar ko nikley hote hain --kesar ka stem hara dikhta hai-aur jab ki is ka stem safed hai -
    haan yah bhartiy hai bas yahi baat diffferent hai.]

    [Nahin to agar aap dhyan se
    autumn crocuses aur kesar mein milaan karengey to picture ka phool 'autumn crocuses'hi dikhta hai--is ke aur bhi chitr ,different sites par hain-]

    -Lekin Raj Sir kah rahey hain to Kesar hi hoga -aakhir paheli unhone poochhi hai poori khoj bin ki hogi.

    -Kavita ji aur sabhi vijetaOn ko bahut bahut badhayee!
    -naari Shakti Zindabaad!!!!!!!!

    -Mohan ji aisey copy na kiya karen--ab dekh liya na!!!!!!Ha ha ha!

    khair--yah paheli jitni jaldi aayee utni jaldi suljh bhi gayee!
    --Is pahliyon ke khel mein to hum bhi bachchey ho gaye hain :)-abhaaar sahit

    ReplyDelete
  9. कविता वाचक्नवी जी आप की बात बिलकुल सही है,मुझ से समझने मै गलती हुयी, लेकिन विजेता तो आप ही है ,ओर आप का बहुत बहुत धन्यवाद मेरे यहां (बांलग ) पर आने का ,आईंदा भी आती रहेगी, मुझे खुशी होगी.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  10. अल्पना जी,देखिये कंफ़ुजन(confusion ) कभी नही होना चाहिये,मेने तो जान बुझ कर लिखा था, लेकिन कही भी यह नही लिखा की यह जबाब गलत है,या सही है... ओर मुझे कही जाना था इस लिये जबाब तो काफ़ी पहले पोस्ट कर दिया था, बाद मै देखा तो रचना जी का जबाब भी आया था, चलिये अगला सवाल लेकर सोम वार सुबह हाजिर होऊगां, लेकिन बहुत आसान सवाल लेकर
    आप सब का धन्यवाद

    ReplyDelete
  11. तुम्‍हारी भी जय जय
    हमारी भी जय जय
    राज जी की जय जय
    विजेता की जय जय
    पढने वाले सभी की जय
    जय जय जय जय जय

    @मोहन वशिष्‍ठ


    विजेताओं को बधाइयां !!!!!

    प्राइमरी का मास्टरका पीछा करें

    ReplyDelete
  12. यह तो स्त्री सशक्तिकरण की साजिश लग रही है।-:)

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।