10/03/09

अरे बाबा आज तो ग्यारह मार्च है !!

Paon_chhu_lene_do_...


नमस्ते, नमस्कार सत श्री अकाल.
शादी शुदा लोगो से( मर्दॊ से) अगर जिन्दगी भर खुश रहना चाहते है तो, मेरी तरह से रोजाना सुबह सब से पहले नीचे लिखी आरती किया करे, यह आरती स्पेशल हमारे लिये लिखी गई है, ओर जिस दिन से यह आरती हम ने करनी शुरु की तब से मस्ती से ब्लांगिग करते है, वीयर पीते है,कोई फ़िकर नही... बस यह सब इस आरती के कारण, अगर आप भी घर मे शांति चाहते है, आजादी चाहते है तो इस आरती को आज ही एक बडे से कागज पर प्रिंट कर ले, ओर मेरी तरह रोज सुबह भजे, थोडे दिनो मे मुंह जबानी याद हो जाये गी, फ़िर मोजा ही मोजा...... यह रचना इन महाशय जी की है इलिस जी


आज का शुभ दिन इस आरती से करे......
ज़य हो ज़य हो, ओ पत्नी रानी,
करती हो तुम अपनी मन मानी
बात हमारी हरदम हो टालती,
हम उतारें तेरी..... आरती

तुम समान बलशाली
कोई जग मैं नही दूजा
हम तो हैं बल्हीन,
तुम्हारी करें किस तरह पूजा
हम से खाना बनवाने वाली,
बर्तन मंज्वाने वाली
नौकर सा हम को धिध्कारती,
ओ रानी, हम उतारें तेरी...... आरती

तुम बच्चो की अम्मा प्यारी,
सास की हो बिटिया प्यारी

कभी अगर तुम रूठो,
कर दो खटिया खडी हुमारी,
हम को अक्सर हाड्काने वाली,
आँखें दिखाने वाली......

गुस्सा तुम हम पर उतारती,
ओ रानी, हम उतारें तेरी आरती,


धूप दीप कुछ तुम्हे ना सोहे
गर कपूर बाति,
क्रीम पाउडर वाली,
लखी लखी तुम काफ़ी हर्षाति,
यूँ तो लगती हो भोली भाली,
लेकिन तुम हो एक दू-नाली,

बोली की गोली हरदम मारती हो,
ओ रानी, हम उतारें तेरी आरती,

पति-पत्नी के इस जग में
है वही पुराना नाता,
बैठी बैठी खाती पत्नी,
पति दिन-रात कमाता,
निश दिन मौज उडाने वाली,
हुमको तरसाने वाली,
सारी कमाई तुम डकारती हो,
ओ रानी, हम उतारें तेरी आरती,


ये सारी धन-दौलत तेरी,
तेरा चाँदी सोना,
हम तो केवल इतना चाहे,
तू नाराज़ ना होना,
हम को उल्लू बनाने वाली,
घर की हे लक्ष्मी आली,
सेवक को काहे फटकारती,
ओ रानी, हम उतारें तेरी आरती

ओ रानी, हम उतारें तेरी आरती !!!

अन्त मै एक शिक्षा हमारी तरफ़ से, अगर बीबी को खुश रखना हो, ओर घर मे शान्ति रखनी हो, तो आप बीबी की सास की पुरी इज्जत करे, वो आप की मां की पुरी इज्जत करे गी







Chand Si Mehbuba H...



आज के दिन 1988 मे हमारी शादी बडी धुम धाम से , सरकारी सडक को रोक कर, ओर यार दोस्तो ने नाच नाच कर, हमारी खुन पसीने की कमाई को दारू मे लुटा कर, ओर हमे एक घोडी पर बिठा कर अपना उलट सीधा खुब नाच दिखाया, दिल तो हमारा भी कर रहा था नाचने को, लेकिन घोडी को कोन सम्भालता ? हम यही से समझ गये कि घोडी पर शादी से पहले इसी लिये बिठाया जाता है कि अभी से समभालाना सीख लो.

ओर फ़िर बहुत सारी रस्मे निभाकर हम अपनी धर्म पत्नी को अपने दिल की डोली मे बिठा कर घर ले आये, ओर बाकी बीबी तो बिलकुल वेसी है जेसी सब की होती है, शुरु शुरु मे थोडी खटपट हुयी, जेसे स्टेशन पर नये यात्रियो के चढने से होती है, फ़िर गाडी चली नही तो सब दोस्त बन जाते है, फ़िर भाईया हम भी पक्के दोस्त बन गये, ओर फ़िर हमने दो सुंदर सुंदर से बेटे अपने दोस्त को तोहफ़े मे दिये, बाकी हमारी जिन्दगी की ट्रेन आज तक चल रही है, जेसे आप सब की चल रही है....

हमारी बीबी दिल्ली से है, इन का नाम है कंचन भाटिया, ओर मेरा नाम राज कुमार भाटिया ,शादी से पहले हमारा वजन सिर्फ़ ५० किलो था, यानि बहुत पतले ओर अब ८०,९० के बीच रहता है, बस हम खुश है इस लिये चाहते है आप सब भी बहुत खुश रहे, लेकिन हमे बहुत सी मुश्किले भी आई, कई बार ऎसे वक्त आये कि फ़ेसला करना कठीन था, लेकिन हम दोनो ने मिल कर हर मुश्किल का सामना किया, हर फ़ेसला हम दोनो का होता है, अब बच्चे भी हमारे हर फ़ेसले मै शमिल है.

यानि शादी के बाद मै, मै नही रहा हम हो गये, एक दुसरे का सहारा बने, हर मुश्किल मे साथ रहे,एक दुसरे के आंसू पोंछे, एक दुसरे की कमी को मजाक नही बनाया, बल्कि प्यार से उसे दुर किया, एक दुसरे के परिवार को अपने से अलग नही समझा, दोनो ने एक दुसरे के मां बाप को अपने मां बाप के समान इज्जत प्यार दिया, एक दुसरे से कुछ नही छुपाया.

ओर आज के दिन हम किसी भी होटल मे खाना खाने नही जाते, बस घर पर ही आम दिनो की तरह से रहते है, वेसे ही जेसे हर रोज चलता है, क्योकि हमारा तो रोज का दिन ही एक दुसरे के लिये होता है,
116 SANGAM = MEIN ...
बस इस बार आप लोगो को अपने परिवार से मिलवाने का एक बहाना था.
आप सभी का धन्यवाद आप आये मेरे परिवार से मिले बच्चो से पहले ही मिल चुके है, आप सभी का धन्यवाद, नमस्ते, चलिये फ़िर मिलते है.......

अरे क्या कहां फ़ोटू, अरे हां हम अपनी दोनो की फ़ोटू दिखाना तो भुल ही गये, तो यह लिजिये ...., हम लोग बिलकुल साधारण है, बिलकुल आम लोगो की तरह से,कोई मेकअप नही, कोई दिखावा नही , जेसे है वेसे ही आप सब से मिलेगे ,

26 comments:

  1. भाटिया जी, आपको डबल बधाई. शादी की सालगिरह की भी और होली की!

    ReplyDelete
  2. राज जी
    शादी की सालगिरह की लाख लाख बधाई और ढेरो शुभकामना . आपकी जोड़ी चिरायु हो ऐसी इश्वर से कमाना करता हूँ . आपको और भाभीश्री जी को होली पर्व की बधाई .

    ReplyDelete
  3. भाभी जी को प्रणाम.

    शादी की सालगिरह की खूब मुबारकबाद और होली की भी मुकारबाद एवं बहुत शुभकामनाऐं.

    सादर
    समीर लाल

    ReplyDelete
  4. शादी की इक्कीसवीं सालगिरह बहुत मुबारक हो। और होली की शुभकामनाएँ। खास रुप से भाभी को बहुत बहुत शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
  5. भाटिया जी आपको और भाभीजी को शादी की वर्षगांठ की हार्दिक बधाई. और होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं.

    वैसे मेरे एक बात समझ मे नही आई कि ये हरयाणवी लोग होली के आसपास ही क्युं शादी करते हैं?:)

    ReplyDelete
  6. शादी की सालगिरह पर शुभकामनाएं, और होली की भी हार्दिक मुबारकबाद ।

    ReplyDelete
  7. bahut bahut mubarak ho saalgirah

    ReplyDelete
  8. भाटिया जी नमस्कार,
    शादी की सालगिरह बहोत बहोत मुबारक हो साथ में होली की भी ...

    अर्श

    ReplyDelete
  9. शादी की सालगिरह मुबारक हो .इस उपलक्ष्य मे आज सारी दुनिया होली मना रही है . आपका फोटू भी देखा बिलकुल आम आदमी की तरह असहज से है भाभी जी के साथ

    ReplyDelete
  10. 'भाटिया दंपत्ति ' को शादी की सालगिरह बहुत बहुत मुबारक हो.

    आप की कही बातें
    ..'मैं नहीं रहा--हम हो गए!'
    और--हमारा तो हर दिन एक दूसरे के लिए होता है' बहुत अच्छी लगीं.
    हम सब भी साधारण ही हैं कोई दिखावा नहीं ,कोई बनावटी बातें नहीं शायद इसीलिये आज यहाँ एक दूसरे से स्नेह की डोर में इस माउस क्लिक से जुडे हैं.
    कंचन जी को मेरी नमस्ते [उनसे मिल कर बहुत अच्छा लगा.कभी आप की तरफ से भी कुछ लिखा हुआ पढने को मिला करेगा..ऐसी आशा है..]
    और ढेर सारी बधाईयाँ..जीवन ऐसे ही खुशियों से भरा रहे.हमारे परिवार की ओर से यही शुभकामनायें आप दोनों के लिए.

    ReplyDelete
  11. भाटिया जी,आपने आरती तो सुना दी,लेकिन ये नहीं बताया कि आरती के बाद कुछ फूल-प्रशाद वगैरह भी चढाया जाता है या नहीं ..))
    खैर इसी प्रकार आपको अपनी आराध्यदेवी की कृ्पा प्राप्त होती रहे.....यूं ही प्रेम पूर्वक जीवन पथ पर बढते चलें.
    आपको सपत्निक होली तथा वैवाहिक वर्षगांठ की ढेरों शभकामनाऎं.............

    ReplyDelete
  12. इस 21वें सालगिरह पर बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं आप लोगों को ...मैं तो उस दिन ही समझ गयी थी भाटिया जी ... जिस दिन आपने भाभीजी से मिलवाने का वादा 11 मार्च को किया था ... मैने इस बात पर कमेंट भी किया था ... देखिए फिर एक समानता ... हमारी शादी भी 1988 को ही 12 मार्च को हुई थी।

    ReplyDelete
  13. अंकल जी को होली की ढेरों शुभकामनाएं। । होली का उल्लास आपके जीवन मे रंग भर दे । साल गिरह पर बहुत बहुत बधाई ।

    ReplyDelete
  14. बहुत बधाई आप दोनों की शादी की सलागिरह की :)

    ReplyDelete
  15. शादी के सालगिरह की बधाई।

    ReplyDelete
  16. ऐसा लग रहा है, जैसे तारीख भूल गये थे, शुक्र है ऊपर वाले का कि ऐसा हुआ नहीं।

    आप दोनों को ढेर सारी हार्दिक शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  17. आप की जोड़ी युगों तक योंही बनी रहे. दोनों दीर्घायु हों और सुखी रहें यही हमारी कामना है आपके शादी के साल गिरह पर. होली की भी शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  18. राज जी आपको शादी की सालगिराह की ढेरों बधाई।
    आपको होली की शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  19. वैवाहिक वर्षगांठ की बधाई। भाटिया दम्पत्ति वैवाहिक जीवन का शतक पूरा करे॥ अंत में आप ने कहा है
    "हम लोग बिलकुल साधारण है, बिलकुल आम "
    काश कि सभी आम-साधारण को यह सुख मिले। :)
    जोडी सलामत रहे, शुभकामनाएं॥

    ReplyDelete
  20. आदरणिय भाईजी भाभीजी
    happy anniversary
    आपके २१ वर्ष सुखद एवम मगलमय रहे.
    भगवान से प्रार्थना है १०० वर्षो तक यह प्यार और स्नेह बना रहे,,,,,,,,,
    मगलमय जीवनयात्रा बनी रहे यह मेरी दुआ है ईश्वर से।

    ReplyDelete
  21. आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद, इतनी सारी शुभकामनाये देख कर दिल खुश हो गया, ओर आंखो मे खुशी के आंसू भी आ गये, फ़िर से आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद.
    आप सब को भगवान बहुत सी खुशिया दे.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  22. Sau. Kanchan bhabhi ji va aapko Shadi ki aur Holi parv ki bahut bahut Badhayee -- Enjoy your Special day !!

    ReplyDelete
  23. शादी की सालगिरह की लाख लाख बधाई और ढेरो शुभकामना , आप की जोड़ी युगों तक योंही बनी रहे..

    regards

    ReplyDelete
  24. आपकी ये पोस्ट बहुत पसंद आई.. आपकी दी हुई शिक्षा का पूरा मान रखेंगे.. ट्रेन में यात्रियो वाली बात बहुत सही कही आपने.. शादी के बाद सभी मैं से हम हो जाए तो ज़िंदगी खूबसूरत हो जाती है.. बहुत बहुत शुभकामनाए आपको.. हम तो फोटो को देखकर यही कहेंगे.. 'रब ने बना दी जोड़ी'

    ReplyDelete
  25. राज सर देर से आया...
    पर आपकी यादें पढ़ कर अच्छा लगा...
    सुंदर कविता है...
    आप को और आपके परिवार को होली और शादी की सालगिरह दोनों की बधाई...
    मीत

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।