10/08/09

तिरंगा फ़हराये अपने ब्लांग पर

Image Hosted by ImageShack.us



जय हिन्द
आप इस कोड को कापी कर के अपने ब्लागं मै डाले ओर १५ अगस्त को तिरंगा पहराये.आप यहा से कोड को कापी कर के अपने गेजेट मे पेस्ट कर ले( HTML ) गजेट कर फ़िर जहां चाहे जितने चाहे झंडे फ़हराये

20 comments:

  1. भाटिया जी, आज इतने दिनों बाद आपको देखकर बहुत अच्छा लगा!!

    ReplyDelete
  2. आप आये बहुत अच्छा लगा -सब अंतिम संस्कार निपट गए माँ के ?

    ReplyDelete
  3. बहुत दिन बाद आपको देखा .. आपकी माताजी के बारे में जानकर बहुत दुख हुआ .. झंडा तो मैने पहले से ही अपने ब्‍लाग पर लगा रखा है।

    ReplyDelete
  4. भाटियाजी आपने जो लिखा है वह बात दिल को छू गई है। जो भ्रूण हत्‍या के दोषी हैं उन्‍हें बहू मत दीजिए। आपने बहुत गंभीर बात लिखी है। उन मां और बाप को सबक देने की जरूरत हैं जो शर्मपूर्ण गर्व से कहते हैं हमारे खानदान में तो बेटियां जन्‍म नहीं लेती। हाल ही में 17 जुलाई को मेरी यहां एक बेटी का जन्‍म हुआ है। मैं इतना खुश था था कि क्‍या बताऊं। जब पहली बार उसे गोद में लिया तो महसूस किया बेटी का बाप बनने की खुशी बेटे वाले क्‍या जाने। दिल्‍ली में रहता हूं अक्‍सर रात में बिजली चली जाती है। जैसे ही बिजली जाती है हाथ कापंखा लेकर दौड़ता हूं कहीं गर्मी से मेरी मिष्‍टी की नींद न खुल जाए। माफ कीजिए जरा भावुक हो गया था।
    dharmendrabchouhan.blogspot.com
    apanimalvi.blogspot.com

    ReplyDelete
  5. इतने बाद आपके आगमन पर सुखद लग रहा है. ईश्वर की मर्जी प्रबल होती है. हार्दिक संवेदनाएं.

    रामराम.

    ReplyDelete
  6. अच्छा लगा आपको पुःन देख...

    ReplyDelete
  7. भाटिया जी!
    हमने तो आज ही अपने तीनों ब्लॉगों पर फहरा दिया है।
    कोड उपलब्ध कराने के लिए आपका आभार!

    ReplyDelete
  8. आपकी वापसी अच्छी और सुखद है...
    कोड उपलब्ध कराने के लिए आपका आभार
    regards

    ReplyDelete
  9. भाटिया जी, इतने दिनों बाद दोबारा से आपका ब्लाग पर आगमन बहुत ही सुखद है!!!

    ReplyDelete
  10. sir ji bahut achha laga vapas dekh kar,mata ji ke baare mein jankar bahut dukh hua,ishwar unhe shanti pradan kare.

    tirange ke code ke liye dhanyawad

    ReplyDelete
  11. कैसे हैं सर....
    इतने दिनों बाद मिले हैं आप..
    चलिए आपका स्वागत है....
    मीत

    ReplyDelete
  12. बड़े दिन बाद नज़र आये, आप कैसे है?

    ReplyDelete
  13. भाटिया जी, आपको पुन: सक्रिय देखकर बहुत अच्छा लगा!

    धर्मेन्द्र चौहान जी की बात बिल्कुल सही है कि बेटी का बाप बनने की खुशी बेटे वाले क्‍या जाने।

    ReplyDelete
  14. भाटिया जी नमस्‍कार आप की वापसी सुखद अनूभूति है लेकिन माफ करना पहले की तरह अबकी बार भी मैं फोन करने में लेट हो गया जैसे ही मैंने बलाग पर पढा था तो बहुत दुख हुआ उसी समय फोन किया लेकिन पता चला कि आप वापस जा चुके हो। खैर बस यही एक फैसला भगवान ने इंसान को नहीं दिया बाकी बस माता जी को श्रीचरणों में स्‍थान मिले

    ReplyDelete
  15. maataa ji ke dehaant ki khabar sun kar afsos hua .ishwar unki aaemaa ko shaanti aur apne charnon me sthaan de.videsh me bhee tirangaa fehraane ke liye dhanyaavaad.
    jhalli-kalam-se
    angrezi-vichar.blogspot.com
    jhalligallan

    ReplyDelete
  16. ********************************
    C.M. को प्रतीक्षा है - चैम्पियन की

    प्रत्येक बुधवार
    सुबह 9.00 बजे C.M. Quiz
    ********************************
    क्रियेटिव मंच

    ReplyDelete
  17. Aapki waapasi se aanand ki anubhooti hui!

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।