26/11/09

अन्ताक्षरी 8 गीतो भरी

आप सबको अन्तर सोहिल का प्रणाम

मुझे यह खेल इसलिये पसंद है कि इसे कितने भी लोग, कहीं भी, किसी भी समय बिना किसी साधन के खेल सकते हैं। घर में या बाहर, बस में या ट्रेन में, आफिस में या सडक पर, छोटे और बडे, अमीर और गरीब, सीनियर और जूनियर सब एक साथ मजा ले सकते हैं ।

जब आप जल्दबाजी में टाईप करते हैं, कोई गाना एकदम से याद आता है या दूसरे लोगों के गाये गानों को पढते हैं तो एकदम से आपके होठों पर जो मुस्कान आती है - "क्या आपने उसे महसूस किया है?" बताईयेगा जरूर

नजरों को हर घडी है तेरी ही जुस्तजु
आंखों की आज होने दो आंखों से गुफ्तगु

तो शुरू करते हैं 'ग' से
ओर कल की विजेता भी फ़िर से अर्चना जी है, हमारी तरफ़ से उन्हे बहुत बहुत बधाई, शेष सभी को भी बहुत बधाई ओर धन्यवाद

120 comments:

  1. गाता रहे मेरा दिल,
    तूही मेरी मंज़िल,

    ReplyDelete
  2. लाखों हैं निगाहों में जिंदगी की राह में सनम हसीन जवां
    "va"

    ReplyDelete
  3. वफा ना रास आयी
    तुझे ओ हरजाई

    'ई'

    ReplyDelete
  4. वोह चाँद खिला. वोह तारे हसे. यह रात अजब मतवाली है.
    समज ने वाले समज गए है. ना समझे वो अनारी है
    "ह"

    ReplyDelete
  5. इचक दाना इचक दाना दाने ऊपर दाना...

    "न"

    ReplyDelete
  6. हमे तुमसे प्यारा कितन ये हम नहीं जानते मगर जी नहीं सकते तुम्हरे बिना

    "न"
    regards

    ReplyDelete
  7. ना ये चाँद होगा ना तारे रहेंगे मगर हम हमेशा तुम्हरे रहेंगे

    "ग"

    regards

    ReplyDelete
  8. गाता रहे मेरा दिल
    तू ही मेरी मंजिल हाय कहीं बीते न ये रेट ह्कहीन बीते ना ये दिन !
    "न"

    ReplyDelete
  9. नाम भूल जाएगा, चहरा ये बदल जायेगा
    मेरे आवाज ही पहचान है अगर याद रहे

    "ह"

    regards

    ReplyDelete
  10. गीत गाता चल
    ओ साथी मुस्कुराता चल

    'ल'

    ReplyDelete
  11. हमने तुमको देखा तुमने हमको देखा कैसे
    हम-तुम सनम सातों जनम मिलते रहें हो जैसे

    'स'

    ReplyDelete
  12. सोहिल जी आप लेट हो गये


    regards

    ReplyDelete
  13. साथी तेरे नाम एक दिन जीवन कर जायेंगे
    "ग"

    regards

    ReplyDelete
  14. गुनगुना रहे हैं भंवरे खिल रही है कली-कली

    'ल'

    ReplyDelete
  15. ले तो आये हो हमे सपनो के गावं में
    प्यार की छावं में बसाए रखना
    "न"
    regards

    ReplyDelete
  16. न हम तुम्हें जाने न तुम हमे जानो
    मगर लगता है कुछ ऐसा मेरा हमदम मिल गया
    *य* पर

    ReplyDelete
  17. ना कोई उमंग है ना कोई तरंग है
    मेरी जिन्दगी है क्या एक कटी पतंग है

    'ह'

    ReplyDelete
  18. ये दुनिया ये महफिल मेरे काम की नहीं

    'ह'

    ReplyDelete
  19. हम प्यार हैं तुम्हरे दिलदार हैं तुम्हरे
    हमसे मिला करो, हमसे मिला करो
    कोई शिकवा अगर हो और शिकायत अगर हो
    हमसे गिला करो पर तुम मिला करो
    "र"

    regards

    ReplyDelete
  20. राह बनी ख़ुद मंज़िल पीछे रह गए मुश्किल
    साथ जो आए तुम, राह बनी ख़ुद मंज़िल

    ReplyDelete
  21. लम्बी जुदाई चार दिनां का प्यार हो रब्बा
    लम्बी जुदाई

    'ई'

    ReplyDelete
  22. idhar intazaar udhar intazaar
    tu bhi beqaraar main bhi beqaraar

    'Ra' se gaayiye

    ReplyDelete
  23. ik din bik jayega maati ke mol, jag me rh jayenge pyaare taire bol

    REGARDS

    ReplyDelete
  24. अब आपको गाना है 'रा' से

    ReplyDelete
  25. रोना रोना कभी नहीं रोना चाहे टूट जाये कोई खिलौना
    "न"
    regards

    ReplyDelete
  26. ना बोले, ना बोले, ना बोले रे
    घूँघट के पाट ना खोले रे
    राधा ना बोले, ना बोले, ना बोले रे

    'रा'

    ReplyDelete
  27. रहा गर्दिशों में हरदम मेरे इश्क का सितारा
    कभी डगमगाई कश्ती कभी खो गया किनारा
    "र"

    regards

    ReplyDelete
  28. रहें ना रहें हम महका करेंगें बन के कली बन के फिजा बागे वफा में

    'म'

    ReplyDelete
  29. रहें ना रहें हम महका करेंगें बन के कली बन के फिजा बागे वफा में

    'म'

    ReplyDelete
  30. खूब टपके बीच में सोहिल भैया

    ठीक है मेरी भी बारी आएगी :)

    ReplyDelete
  31. हम तुम्हारे लिए तुम हमारे लिए
    फिर जमाने का क्या जो हमारा न हो

    "ह"

    regards

    ReplyDelete
  32. मुझकॊ अपने गले लगा लो,ऐ मेरे हमराही
    तुमकॊ क्या बतलाऊँ मै ,कि तुमसे कितना प्यार है...

    "ह"

    ReplyDelete
  33. अब सीमा जी 'ह' को कहां से पकड के लाई हैं

    ReplyDelete
  34. हमने तुमको दिल ये दे दिया
    ये भी न सोचा कौन हो तुम
    "म"
    regards

    ReplyDelete
  35. मुसाफ़िर हूँ मैं यारों
    ना घर है ना ठिकाना
    मुझे चलते जाना है, बस, चलते जाना

    'न'

    ReplyDelete
  36. ना मानू ना मानू ना मानू रे
    दगाबाज तोरी बतियाँ ना मानू रे

    'र'

    ReplyDelete
  37. sohil ji aap gadbad kar rahe hain

    'Na' se gaana hai ji

    ReplyDelete
  38. रात कली इक ख्वाब में आयी
    और गले का हार बनी

    'न'

    ReplyDelete
  39. रिमझिम गिरे सावन सुलग सुलग जाये मन
    भीगे आज इस मौसम में लगी केसी ये अगन


    regards

    ReplyDelete
  40. हां जी

    लगता है मेरी या मेरे ब्राऊजर की गति कम है

    हा-हा
    अभी ध्यान रखूंगा

    ReplyDelete
  41. ना जा अब कही मत जा दिल के सिवा

    "व्"

    regards

    ReplyDelete
  42. वक्त से दिन और रात वक्त से कल और आज

    'ज'

    ReplyDelete
  43. जी नहीं हार मानने का सवाल ही नहीं हा हा हा हा हम ना से गा चुके हैं

    regards

    ReplyDelete
  44. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  45. वादा रहा सनम, होंगे जुदा ना हम
    चाहे ना चाहे ज़माना

    'न' से गाइए एक बार फिर

    ReplyDelete
  46. जीवन से भरी तेरी ऑंखें मजबूर करे मुझे जीने लिए
    "ए
    regards

    ReplyDelete
  47. "ए" से गाइए
    regards

    ReplyDelete
  48. sohil ji cheating nahi
    ye bhala kaun sa gaana hai :
    वक्त से दिन और रात वक्त से कल और आज

    ye koyi gaana nahi hai

    ReplyDelete
  49. एक मैं और एक तू
    दोनों मिले इस तरह

    'ह'

    ReplyDelete
  50. अब क्या अक्षर है finaly

    regards

    ReplyDelete
  51. लीजिए सीमा जी!
    हम भी मखमल में टाटड का पैबन्द लगा देते हैं-

    ऐ मेरे वतन के लोगो!
    जरा आँख में भर लो पानी।
    जो शहीद हुए हैं उनकी,
    जरा याद करो कुर्बानी।।

    अब "न" से गाइए!

    ReplyDelete
  52. वाह वाह यहां पर भी जोर दार महफ़िल लगी हुयी है, हम तो बैन्ड बाजे की आवाज सुनकर देखने चले आये क्या हो रहा है। यहां तो सारे धुरंधर लगे हुए हैं, बहुत बढिया कार्यक्रम चल रहा है,

    "अकेले ही अकेले चला है कहां?" हम भी साथ हैं

    ReplyDelete
  53. ना आदमी का कोई भरोसा, ना दोस्ती का कोई ठिकाना
    "na"

    ReplyDelete
  54. na munh chhupa ke jiyo aur na sar jhuka ke jiyo
    gamon ka daur bhi aaye to muskura ke jiyo

    'य' से गाइए

    ReplyDelete
  55. यारी है ईमान मेरा यार मेरी जिन्दगी


    regards

    ReplyDelete
  56. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  57. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  58. Gam Ka Fasaana Ban Gaya Achchha
    Ek Bahaana Ban Gaya Achchha
    Sarakaar Ne Aake Mera Haal To Puuchha
    Gam Ka Fasaana Ban Gaya Achchha

    ReplyDelete
  59. 'छ' से किसी को गाना आता है या मैं खुद को विजयी घोषित कर दूँ ? :)

    seema ji aapko aata hai ?

    ReplyDelete
  60. नोटिस :

    अगर दस गिनने तक किसी ने 'छ' से नहीं गाया तो "अन्ताक्षरी सरताज" की उपाधि मुझे मिल जायेगी

    ReplyDelete
  61. यानी मैं जीत गया ......आज का अन्ताक्षरी सम्राट पुरस्कार परमवीर प्रकाश गोविन्द जी को दिया जाने वाला है किसी को आपत्ति हो तो शीघ्र आये

    ReplyDelete
  62. प्रकाश गोविन्द जी
    क्षमा कीजियेगा
    मैं कहीं चला गया था, आया तो देखा कि आपने पूछा है कि यह कौन सा गाना है।

    यह वक्त फिल्म (1965) का मोO रफी का गाया हुआ सुपरहिट गीत है।

    वक्त से दिन और रात वक्त से कल और आज
    वक्त की हर शह गुलाम वक्त का हर शह पे राज
    आदमी को चाहिये वक्त से बचकर रहे
    कौन जाने किस घडी वक्त का बदले मिजाज

    प्रणाम

    ReplyDelete
  63. छई छप्पा छई
    छपाके छई
    पानियों की लहरों पे जाती हुई लडकी देखी है

    'ह'

    ReplyDelete
  64. 'छ' से बहुत गाने हैं प्रकाश गोविन्द जी
    जब नम्बर आयेगा तो सुनायेंगें आपको

    ReplyDelete
  65. Hazaron khwahishen aaisi ki har khwahish pe dam nikle/bahut nikle mere arman lekin phir bhi kam nikle..
    'la'
    Make money blogging tips

    ReplyDelete
  66. बहुत बढिया, चलने दिजिये. फ़ुरसत मिलते ही आते हैं हम भी.:)

    रामराम.

    ReplyDelete
  67. लूटे कोई मन का नगर बन के मेरा साथी


    regards

    ReplyDelete
  68. थोडी सी जमीं थोडा आसमां
    तिनकों का बस एक आशियां

    'य'

    ReplyDelete
  69. याद किया दिल ने कहां हो तुम, प्यार से पुकार लो जहां तुम



    regards

    ReplyDelete
  70. मयकदे से शराब से साकी से जाम से
    अपनी तो जिंदगी शुरु होती है शाम से

    'स'

    ReplyDelete
  71. सागर किनारे दिल ये पुकारे ,
    तू जो नहीं तो मेरा कोई नहीं है


    regards

    ReplyDelete
  72. है अगर दुश्मन दुश्मन जमाना गम नही-गम नही

    'ह'

    ReplyDelete
  73. हमे तुमसे प्यार कितना ये हम नहीं जानते
    मगर जी नहीं सकते तुम्हारे बिना


    regards

    ReplyDelete
  74. नीले गगन के तले
    धरती का प्यार पले

    'ल'

    ReplyDelete
  75. लिखे जो ख़त तुझे वो तेरी याद में
    हजारों रंग के सितारे बन गये



    regards

    ReplyDelete
  76. यम्मा यम्मा ये खूबसूरत समां
    आज की रात है जिन्दगी
    कल हम कहां तुम कहां

    'ह'

    ReplyDelete
  77. हम तुम से जुदा हो के मर जायेंगे रो रो के


    regards

    ReplyDelete
  78. कौन है जो सपनों में आया
    कौन है जो दिल में समाया
    लो झुक गया आसमां भी
    इश्क मेरा रंग लाया

    'य'

    ReplyDelete
  79. ये दुनिया ये महफिल मेरे काम की नहीं


    regards

    ReplyDelete
  80. हाय रे हाय नींद नही आये ,हो आया प्यार भरा मौसम सुहाना सुहाना...
    "न"

    ReplyDelete
  81. निंबूडा निंबूडा निंबूडा
    काचा काचा छोटा छोटा निंबूडा लाये दो

    'द'

    ReplyDelete
  82. dam maaro dam mit jaaye gham
    bolo subah sham hare krishna hare ram

    ReplyDelete
  83. मुझको इस रात की तनहाई मे आवाज न दो...
    "द"

    ReplyDelete
  84. राम करे ऐसा हो जाए, मोरी निंदिया तोहे मिल जाए, मैं जागुं तू सो जाए।
    "य या ए"

    ReplyDelete
  85. दादी अम्मा, दादी अम्मा मान जाओ,
    छोड़ो यह गुस्सा जरा हस के दिखाओ।

    ReplyDelete
  86. ओ जने वाले हो सके तो लौट के आना
    *न * पर्

    ReplyDelete
  87. नन्हा मुन्ना राही हूँ, देश का सिपाही हूँ
    बोलो मेरे संग, जय हिंद, जय हिंद, जय हिंद
    "द"

    ReplyDelete
  88. आओ भई कॊई तो आओ फ़िर खेले गे आगे
    "द" से आगे

    ReplyDelete
  89. दगा दगा वई वई वई
    दगा दगा वई वई वई
    हो गयी तुमसे उल्फत हो गयी
    दगा दगा वई वई वई

    'ई' से गाईये

    ReplyDelete
  90. इक बुत बनाऊँगा तेरा और पूजा करूँगा
    अरे मर जाऊँगा प्यार अगर मैं दूजा करूँगा
    "ग"

    ReplyDelete
  91. गगन ये समझे चाँद सुखी है, चंदा कहे सितारे
    सागर की लहरें ये समझे हमसे सुखी किनारे
    ओ साथी दुख में ही सुख है छिपा रे

    'र' से निपटिये जरा आप

    ReplyDelete
  92. राज़-ए-दिल उनसे छुपाया ना गया
    प्यार की आग कुछ ऐसी भड़की
    "क"

    ReplyDelete
  93. Kali Ghata Chhayi, Prem Ruth Aayi,
    Aayi Aayi Aayi Aayi
    Teri Yaad Aayi,

    ई' से गाईये

    ReplyDelete
  94. इब्तिदा-ए-इश्क़ में हम सारी रात जागे
    अल्ला जाने क्या होगा आगे
    मौला जाने क्या होगा आगे
    दिल में तेरी उलफ़त के बंधने लगे धागे
    "ग"

    ReplyDelete
  95. Gadi Wale Gadi Dheere Haak Re
    Jiya Uda Jaye Lade Aankh Re

    'ra' se gaayiye

    ReplyDelete
  96. रंगोली सजाओ रे रंगोली सजाओ
    तेरी पायल मेरे गीत आज बनेंगे दोनों मीत
    "त"

    ReplyDelete
  97. Taal pe jab ye zindagaani chali
    Ho taal pe jab ye zindagaani chali
    Hum hain deewane
    Hum hain deewane ye kahaani chali

    'La' se gaayiye

    ReplyDelete
  98. लाखों तारे आसमान में, एक मगर ढूँढे ना मिला
    देखके दुनिया की दीवाली, दिल मेरा चुपचाप जला
    "ल"

    ReplyDelete
  99. Laagi laagi laagi, laagi laagi laagi
    Laagi laagi laagi, laagi laagi laagi
    Prem dhun laagi

    ha...ha...ha...ha

    'Ga' se gaayiye

    ReplyDelete
  100. गाये जा गीत मिलन के तु अपनी लगन के.
    सजन र जाना है.
    "ह"

    ReplyDelete
  101. लगता है मुझे आज "अन्ताक्षरी सम्राट" दोबारा बनना पड़ेगा

    ReplyDelete
  102. haan deewana hoon main
    gam ka maara hua
    ik begaana hoon main
    haan deewana hoon main

    "M" se gaayiye ab

    ReplyDelete
  103. भाई मै थोडी देर बाद खाना खाने जाऊंगा, इस लिये जल्दी जबाब दो चलिये आज के सम्राट आप हुये, लेकिन जल्द आ जाऊंगा, जाना नही, लेकिन अभी नही थोडी देर बाद

    ReplyDelete
  104. मैं ने शायद तुम्हें पहले भी कहीं देखा है

    अजनबी सी हो मगर गैर नहीं लगती हो
    "ह"

    ReplyDelete
  105. nahi raaj ji ab mai bhi chalta hun
    mujhe bhi dinner karna hai abhi

    baad men kabhi khelte hain

    ReplyDelete
  106. अरे ह से तो कोई बता दो फ़िर चले जाना

    ReplyDelete
  107. hai apanaa dil to aawaaraa,
    naa jaane kis pe aayegaa

    haseenon ne bulaayaa,
    gale se bhee lagaayaa
    bahut samazaayaa, yahee naa samjha
    hai apanaa dil to aawaaraa

    "Ra"

    The End

    ReplyDelete
  108. अरे आओ भाई खेले आगे...
    रसिक बलमा, हाय, दिल क्यों लगाया
    तोसे दिल क्यों लगाया, जैसे रोग लगाया
    "य"

    ReplyDelete
  109. LAGTA HAI ANTAAKSHARI KHATAM HO GAYEE AAJ KI ...AUR MAIN LATE HUN BAHUT ...

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।