5/17/10

मैंने उससे कहा कि जहाज़ में बैठ गया हूं और बस 15 मिनट में जहाज़ उड़ने वाला है

'जहाज़ तो उड़ेगा ही'
मौलाना नूरुल हुदा

मौलाना नूरुल हुदा एमिरेट्स एयरलाइंस से लंदन जा रहे थे

उत्तर प्रदेश के शहर देवबंद के सुप्रसिद्ध मदरसे के एक मौलाना के बारे में पिछले दिनों यह ख़बर लगभग हर समाचार पत्र में थी कि कथित तौर पर विमान को उड़ाने के आरोप में मौलाना नूरुल हुदा को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया था, बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया.पुरी खबर पढने के लिये यहां चटका लगाये

21 comments:

  1. तोलमोल के बोल भाई !!


    अभी आपका दिया लिंक खुला तो नहीं है पर मामला तो यही लगता है !!

    ReplyDelete
  2. मैंने सही ही सोचा था ............. बढ़िया खबर पढवाई आपने, राज भाई !!

    ReplyDelete
  3. बडी भयंकर गलतफहमी रही...बेचारे मियाँ जी को फोकट में बिना किसी कसूर के ही हवालात के दर्शन करने पडे..आज सुबह ही समाचारपत्र में ये खबर पढी थी..

    ReplyDelete
  4. गलत हुआ.. ऐसा नहीं होना चाहिए था..

    ReplyDelete
  5. बेचारे यूँ ही परेशान हो गये

    ReplyDelete
  6. उड़ने का मतलब ? हा हा हा !

    ReplyDelete
  7. आप मानें या न मानें
    पर यह सच है कि
    जलजला जलाने नहीं
    जगाने आया है
    आग लगाने नहीं
    लगी हुई आग को
    बुझाने आया है
    http://jhhakajhhaktimes.blogspot.com/2010/05/blog-post_18.html

    ReplyDelete
  8. बढ़िया खबर पढ़वाई आपने.

    ReplyDelete
  9. चौकसी जरूरी है। किन्तु थोड़ी और सावधानी की भी जरूरत है।

    ReplyDelete
  10. नई लगी यह खबर,आभार.

    ReplyDelete
  11. सुबह-सुबह यह खबर पढ़कर धन्य हो गया!

    ReplyDelete
  12. राज जी,आपका लिंक खुलने में काफी समय ले रहा है ,कृपया जाँच लें / वैसे यही तो दुर्भाग्य है इस देश का ,ऐसे हादसे की कोई जाँच कर पीड़ित व्यक्ति को उसके मानहानि के लिए मुआबजा दिला सके और यह सुनिश्चित कर सके की ऐसी घटना दुबारा किसी अच्छे इन्सान के साथ न हो / पहले दिया गया मेरा कमेन्ट मेरे ख्याल में स्पष्ट नहीं था ,इसलिए उसे मैंने डिलीट कर दिया है /

    ReplyDelete
  13. अब इंग्लिश के बजाए हिंदी मे बोलेँगे तो मुसीबत तो आएगी ही TAKE OF कहते तो अच्छा रहता

    ReplyDelete
  14. बताओ, गलतफहमी कैसी कैसी..

    ReplyDelete
  15. achhe lagee khabar bechara hava me udte udate jail pahunch gaya

    ReplyDelete
  16. ये तो बहुत गलत है , सरासर अत्याचार है , ये नहीं होना चाहिए , सरकार को माफी मांगना चाहिए

    ReplyDelete
  17. क्या किया जाए ... कुछ लोगों के दिमाग़ में अमरीकियों का सा गोबर भरा हो तो ...

    ReplyDelete
  18. सही बात, अभी और सावधानी जरूरी है. :-)

    ReplyDelete
  19. कभी कभी ऐसा भी हो जाता है |

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

Note: Only a member of this blog may post a comment.

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।