05/01/09

बुझो तो जाने?? जबाब

नमस्कार, लिजिये मै जबाब ले कर हाजिर हुआ हुं, मुर्गी का अंडा तो यह बिलकुल भी नही है,

हमारे पाठक बहुत ही जागरुक है, जब भी मै कोई पहेली घंटो लगा कर ढुढ कर लाता हुं, तो आप उसे झट से हल कर देते है, कई बार सोचा यह बहुत मुस्किल है, तो वही पहेली सब से ज्यादा बुझी गई, ओर जिसे बिलकुल आसन समझा, उस पर आप सब को मुस्किल हुयी, लेकिन आज तक सभी पहेलिया बुझी गई, ओर बहुत से लोगो ने सही जबाब भी दिये.
आज की इस पहेली का सही जबाब ** यह सोयाबीन बीज ही है.
सब से पहले विजेताओ के बारे मै बात की जाये...

आज के सब से पहले विजेता है ab inconvenienti.
दुसरे स्थान पर विजेता के रुप मै आये हमारे...अर्विन्द मिश्रा जी.
तीसरे स्थान पर विजेता के रुप मै आये हमारे...मोहन वशिष्ठ जी.
चोथे स्थान पर विजेता के रुप मै आये सिद्धार्थ ..शकंर त्रिपाठी जी.
पांचवे स्थान पर विजेता के रुप मै आये हमारे ....शरारती शुभम आर्य जी.
छठे स्थान पर विजेता के रुप मै आये हमारे ...मसिजीवी जी
सांतवे स्थान पर विजेता के रुप मै आई... अल्पना वर्मा जी.
आठंवे स्थान पर विजेता के रुप मै आये हमारे अनुराग शर्मा जी ( स्मार्ट इंडियन )
नोवें स्थान पर विजेता के रुप मै आई सीमा गुप्ता जी.
दसवें स्थान पर विजेता के रुप मै आये हमारे प्राईमरी के मास्टर जी श्री प्रवीण त्रिवेदी जी.
गाहरवे स्थान पर विजेता के रुप मै आये हमारे पि टि डी के शर्मा जी" वत्स"
आप सभी को इस पहेली के विजेता बनने की बहुत बहुत बधाई...
**********************************
अब जिन्होने हम सबका होसला बढया ओर कोशिश की.....
सब से पहले आये अर्श जी, उन्होने इसे किसी फ़ल का वीज बताया, वेसे था तो यह वीज ही, फ़िर आई रंजना जी(रंजू भाटिया) ओर वो इन्तजार मै बेठ गई अल्पना जी के, फ़िर आये सुबर्मन्यम साहब जी, ओर वो भी सही जबाब के इन्तजार मै बेठ गये बाहर से समर्थन देने के लिये :),फ़िर आये मोहन जी टाई पहन कर ओर रोमन मओ फ़िर से अपना जबाब दोहरा दिया, लेकिन इस बार अपने बच्चे को भेजा, फ़िर आये हिमांशु जी भाई आप की कविता बहुत प्यारी होती है, लेकिन कठिन हिन्दी मै, इस लिये इस बार हम ने भी कठिन पहले पुछ कर बदला ले लिया :), ओर आप ने इसे चीकू बता दिया, ओर फ़िर आये हमारे वकील साहब दिनेशराय द्विवेदी जी, भाई माफ़ करना आप चाहे तो इसे नीबू भी सिद्ध कर दे, इस लिये आप से ज्यादा वहस नही, फ़िर आये अनुराग जी, लेकिन अल्पना जी को तो हम ने रोक रखा था, बेठे रहिये इन्तजार मै रंजू जी के साथ, फ़िर आये शुभम आर्य जी बिलकुल मेरे छोटे बेटेकी तरह से शरारती बाते ले कर,

अब थोडी सांस लेलू....
फ़िर आये हमारे मास्टर प्रवीण त्रिवेदी जी, एक पका हुआ नीबू ले कर शायद कट लगने से थोडा सड गया था, अजी साफ़ वाला हिस्सा काट कर काम आ जायेगा, महक जी को भी यह नीबू ही लगा, बस साथ मै कीडा फ़्री मै मिल गया, ओर हा यह भी अल्पना जी की इन्तजार कर रही है, करलो बात ताऊ तो घर की बात जाने है, इस लिये उन्होने सीधा कह दिया आप ने अल्पना जी का जबाब रोक रखा है, अरे भाई सही जबाब तो कब का मेने खोल दिया था, चलिये ताऊ को भी नीबू या संतरे का की कोई फ़ल लगा साथ मै एक मोटा सा कीडा भी फ़्री, अरे नरेश सिंह राठॊड साहब हम ने कहां मना किया बीयर की पेटी तो जरुर मिले गी , लेकिन लेने आना पडेगां. अब पता चला आप भी इसे नीबू ही कह रहे है, जो फ़ुटवाल लग रहा है सुंम करने से, चलिये बताये कब आ रहे है बीयर की पेटी लेने,

सचिन मिश्रा जी को भी यह नीबू ही लगा, अरे अल्पना जी आप अभी गडबड ना करे.. भाई आप का जबाब मिल गया है, शायद अपना जबाब ना मिलने की वजह से आ गई थी,विनय जी भाई यह नीबू नही है, लेकिन ... अरे अर्विन्द जी आप थोडी देर ओर इन्त्जार करे कसम विदधा माता की आप को नही हरायेगे, वेसे आप की चिडिया की वजह से मै भी ताऊ की पहेली मे सब से आखरी मै पहुचां,

विवेक भाई सच मै आप ने खुस कर दिया, गुलाब जामुन खाये बहुत दिन हो गये, सुना है कोने बाला बंगाली बहुत अच्छे गुलाबजामुन बनाता है कभी चलेगे खाने मिल कर,मोहन जी आप ने अपने मोबाईल का नम्बर तो दिया ही नही, लेकिन आप का जबाब भी हम ने दबा कर रखा है, चलिये आप का ना आप से पुछ कर फ़िर आप को फ़ोन से सुचित जरुर करेगे,
आप सभी का धन्यवाद बहुत अच्छा लगता है , ओर आप के साथ साथ मुझे भी बहुत सारी नयी बातो का पता चलता है.
अब हम सब की ओर से प्राइमरी के मास्टर प्रवीण त्रिवेदी जी को बहुत बहुत बधाई उन के यहां कन्या ने जन्म लिया है, ओर वो कोई नाम पुछ रहे है आप सभी से निवेदन है उन्हे खुब सारे नाम सुझाये, ओर वो उन नामो से कोई अपनी मनपसन्द का नाम अपनी प्यारी सी बिटिया को दे सके.
चलिये तो फ़िर मिलते है अगली पहेली मै, अगर आप किसी के पास कोई ऎसॊ पहेली हो तो मुझे मेल से भेजे पहेली आप के नाम से प्रकाशित होगी.
फ़िर से आप सभी का धन्यवाद

19 comments:

  1. जो जीता वो सिकन्दर, और सिकन्दरों को बधाई!



    ---मेरा पृष्ठ
    चाँद, बादल और शाम

    ReplyDelete
  2. चलो जी, पहेली में तो आ नहीं पाये पर इन महारथियों को बधाई तो दे ही सकते हैं.

    ReplyDelete
  3. पहेली तो मैं भी मिस कर गई, पर बिना बूझे जान तो लिया

    ReplyDelete
  4. बधाईयाँ ही बधाईयाँ !

    ReplyDelete
  5. sabhi ko badhayeeyan..aur aap ki jawabi post bhi bahut hi rochak hai...

    ReplyDelete
  6. जो जीते उन सबको बधाई

    ReplyDelete
  7. "प्राइमरी के मास्टर प्रवीण त्रिवेदी जी को बहुत बहुत बधाई कन्या के जन्म पर, और सभी विजेताओं को बधाई."

    regards

    ReplyDelete
  8. सभी विजेताओं को बधाई. अगली पहेली का इन्तजार रहेगा.

    ReplyDelete
  9. पहले तो सभी विजेताओं को बधाई !
    @ आदरणीय भाटिया जी आपने बगल में जो हिसाब किताब लगा रखा है कृपया उसका जुगाड हमें भी बता दें तो आभारी होंगे !

    ReplyDelete
  10. विजेताओं को हार्दिक बधाई।

    ReplyDelete
  11. सभी महारथियों को विजयी होने की बधाई. और अगली बार हम जरा अक्ल से जवाब देंगे, फ़िर कैसे नही जीतेंगे ? अभी तक तो हमारी अक्ल घासखाने चंपाकली के साथ गई थी. :)

    रामराम.

    ReplyDelete
  12. मुझ समेत सभी विजेताओं को बहुत बहुत बधाई

    भाटिया जी नमस्‍कार
    देखा एक बार फिर से मैं तीसरे नंबर का विजेता बन गया ना
    मेरा मोबाइल तो बच्‍चे बच्‍चे की जुबान पर होता है किसी से भी पूछ लेते खैर अब कभी भी जरूरत पडे तो 100 नंबर डायल् कर भी आप पूछ सकते हैं
    हा हा हा

    ReplyDelete
  13. नये साल की मुबारकबाद कुबूल फरमाऍं।

    ReplyDelete
  14. सभी को ढेरो बढाई |
    और पहेली का जवाब खोजते-खोजते घर की हालत तो बिगड़ ही गई |
    पुरा दिन लग गया उसे ठीक करने में !

    ReplyDelete
  15. हम बिलकुल इसे नीबू साबित नहीं करना चाहते हैं। हम सोयाबीन के बीज के खोल के बड़े किए हुए चित्र से धोखा खा गए जो बिलकुल नीबू की तरह लग रहा था। वैसे भी मुकदमे को दोनों और से वकील ही लड़ते हैं, जिन में से एक हारता है। यानी वकील आधे मुकदमे तो हारते ही हैं।

    ReplyDelete
  16. kuch din gayab rahne ke liye SORRY...
    ---meet

    ReplyDelete
  17. राज भाटिया जी एवं लवली जी अचानक मुझे एक तस्वीर दिख गई। यूं तो मैं पहेली पूछता नहीं हूँ, लेकिन ब्लागरों की ओर से पूछी गई पहेली का जवाब देने का प्रयास जरुर करता हूँ। तस्वीर दिखी तो लगा सबसे पूछ लूँ। फ़िर आप दोनों की याद या गई कि आप दोनों पहेली पूछने में माहिर हैं। इसलिए खाशकर आप दोनों के लिए यह पहेली है. यह तस्वीर किस चीज की है।
    http://manthannews.blogspot.com

    ReplyDelete
  18. भाटिया जी नमस्‍कार
    कैसे हैं आप काफी दिन हो गए अब तो सुस्‍ती को छोडो महाराज और जल्‍दी से आइए इस ब्‍लाग की दुनिया के प्राणी आपका बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं कुछ ने तो अब मंदिर जाना भी शुरू कर दिया कि भाटिया जी को प्रसन्‍न करने के लिए

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।