15/02/09

बूझॊ तो जाने ?

नमस्कार आप सब को, क्या आप बता सकते है यह फूल किस फ़ल, किस मसाले, किस पेड या किस झाडी का है, तो ध्यान से देखे, इस सुंदर फूल को ओर झट पट जबाब लिख दे.

33 comments:

  1. ye tho shirish ya shishir ke phool sa hi hai,bada khubsurat.agar ye wahi hai,inki mehek bhi badi ahhi hoti hai.

    ReplyDelete
  2. फूल खूबसूरत है। देखा भी है पर नाम याद नहीं आ रहा है।

    ReplyDelete
  3. लौंग का लग रहा है, लाक कर दिया जाये!

    ReplyDelete
  4. लौंग का फूल- Clove

    ReplyDelete
  5. फूल खूबसूरत है। देखा भी है पर नाम याद नहीं आ रहा है।

    ReplyDelete
  6. पहली बात यह
    फुल नहीं है
    फूल है जी।

    तितलीरोंये फूल है
    क्‍योंकि इसमें मिल
    रहा है जो आभास
    वो नहीं है किसी
    और फुल के पास।

    ReplyDelete
  7. भाटीया जी, हम तो बस यही दुआ करते हैं कि'हिना' की तरह आपका ब्लॉग यूं ही रंग बिखेरता रहे.

    लाली मेरे लाल की ऊपर ऊपर लाल।
    ज्यों कालिख पर हों पुते 'मेहंदी' और गुलाल।

    वे रहीम नर धन्य हैं, पर उपकारी अंग।
    बाँटनवारे के लगे, ज्यों 'मेहंदी' को रंग॥

    अगर पहेली का जवाब चाहिए हो तो कृ्प्या बता दीजिए.

    ReplyDelete
  8. भाटिया जी नमस्‍कार

    अमरूद है जी

    मन से

    ReplyDelete
  9. अविनाश जी धन्यवाद गलती बताने का,
    चलिये आप को कुछ हिंट दे दु...
    इस फ़ूल या इस के सम्बंधित वस्तू को ले कर, एक नही, दो नही, बहुत से गीत बने है,फ़िल्मी, गेर फ़िल्मी.
    यह फ़ूल हम सब के आसपास ही कही किसी रुप मे मिलता है.
    इसे हम सब किसी ना किसी रुप मे अपने काम मै लाते है( फ़ूल ,इस फ़ूल के फ़ल, पत्ते, तना,यानि कुछ ना कुछ तो हमारे काम आता है.
    भारत मै हर घर मै यह किसी ना किसी रुप मे मिलता है , ओर दिखता है, जरा नजर मारे अपने आसपास..... अगर आप सडक पर ध्यान से लोगो को आते जाते देखे, तो... इसे किसी ना किसी रुप मे जरुर देख पायेगे...... १०० %.
    आप के घर मै भी यह जरुर होगा किसी ना किसी रुप मे.
    तो बूझे

    ReplyDelete
  10. भाटिया जी.. ये फल फूल तो मेरी समझ से परे है..

    ReplyDelete
  11. भाटिया जीमुझे पता होता आप फ़ुलो के बार मे सवाल करेंगे तो बाटनी मे पीजी कर लेता।पहेली भी जितता और शादी भी हो गई रहती

    ReplyDelete
  12. ab itna badhiya hint diya hai to koi kaise na bata de--ki yah 'mehnadi ka phool' hai.....

    tabhi bahut dekh dekha lag raha hai....

    ReplyDelete
  13. मेहंदी का फूल है ..... 100 प्रतिशत.....कोई शक ही नहीं।

    ReplyDelete
  14. in case maira ans jasmine wrong hai to ye 'Heena' yani mehndi hai. Regards

    ReplyDelete
  15. नाम से क्या लेना काम देखो यारों.
    रूप से क्या लेना काम देखो यारों..

    धन्यवाद.


    आपका
    महेश

    ReplyDelete
  16. maira coment khan gya? Kya maira answer right hai? Bhut suspense hai aaj? Regards

    ReplyDelete
  17. भाटिया जी कल के कमेंट दिए हैं अभी तक छिपा रखे हैं इसका मतलब मेरे जवाब भी बिल्‍कुल ठीक हैं हा हा हा आज मैं विजेता बन गया

    ReplyDelete
  18. Bhatia g
    jo aapne dikhaya vo phool hai..
    par jo na samjha vo fool kai.....
    aapki ab batao kya shikayat hai ..?

    ReplyDelete
  19. भाटिया जी,आपके वहां जर्मनी में मौसम का क्या हाल है. यहां लुधियाना में तो आज सुबह से ही बादल छाए हुए है. वैसे भी फागुन का महीना है.

    कंधों पर फागुनी अकास लिए
    आज कहीं ये बादल बरसेंगे।

    बरसेंगे-खेतों में धान-पान बरसेंगे
    बंजर में हरियाली की उड़ान बरसेंगे
    हाथों की मेहंदी में,पाँव के महावर में
    कोमल इच्छाओं के आसमान बरसेंगे

    ReplyDelete
  20. जब से देखा चित्र,
    खूब खपाय सर!

    खूब खपाया सर,
    लेकिन नांव वहीं है अभी भी,
    निकली जहां से थी.

    अत: आपके उत्तर का बहुत ही उत्सुकता से इंतजार है. हां, यह पक्का है कि यह लौंग नहीं है क्योंकि लौंग हमारे इस इलाके में होती है.


    सस्नेह -- शास्त्री

    ReplyDelete
  21. मेंहदी (हिना). 100% Confident :-)

    ReplyDelete
  22. उम्र बढ रही है और याददाश्‍त साथ छोड रही है। साफ लग रहा है कि यह फूल देखा है और हाजर बार देख है। किन्‍तु किसका है-याद नहीं आ पा रहा।

    ReplyDelete
  23. अजी ध्यान से देखे इस को इस के पत्तो को जबाब कठिन नही, मंगल बार की सुबह आप को इस का जबाब मिल जायेगा, तब तक आप सब के पास समय है, इस पहेली का सारा राज इस फ़ूल मै नही इस के पत्तो मे छिपा है.
    धन्यवाद

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।