05/06/10

कामनवेल्थ गेम्स का टिकट बुक कराया क्या

लो जी तैयारियां अब आखिरी पायदान पर हैं। दिल्ली उतावली हो रही है, खेल प्रेमियों का स्वागत करने के लिये। 03 अक्तूबर से 14 अक्तूबर तक होने वाले कामनवेल्थ गेम्स क्या आप नहीं देखना चाहेंगें। अजी खेल ना सही उद्घाटन समारोह तो देख आईये। Opening Ceremony 03-Oct-2010 को 07:00 PM से 09:00 PM है। इसके लिये और खेलों के लिये सीट की अग्रिम बुकिंग आप यहां से करवा सकते हैं।

Commenwealth Games की Advance Booking के लिये Registration कराना पडेगा। नाम और पासवर्ड से लोगिन करके ही आप टिकट बुक कर पायेंगें। अगर आप Credit Cards से Payment करना चाहते हैं तो केवल HDFC Bank और ICICI Bank  के क्रेडिट कार्ड ही Accept किये जायेंगें।

इससे पहले कि सबसे कम मूल्य 1000/- की Opening Ceremony की सीटें फुल हो जायें। जल्दी जाईये और अपनी सीट बुक कर लीजिये।

14 comments:

  1. इस जानकारी के लिए शुक्रिया!

    ReplyDelete
  2. भाटिया साहब आपने अगर टिकट बुक करा ली है ओर आप आ रहें हैं दिल्ली तब तो हम भी बुक करा लें अन्यथा इस कॉमनवेल्थ गेम से तो दिल्ली की जनता वैसे ही परेशान है इस गेम ने तो न जाने किन-किन गेमों को जन्म दे दिया है जिसे दिल्ली की जनता सालों झेलती रहेगी ,जानकारी देती पोस्ट के किये आपका धन्यवाद | वैसे आपसे एक बार मिलने का बरा मन है |

    ReplyDelete
  3. बहुत सुंदर जानकारी, वेसे आप सब की जानकारी के लिये बता दुं की धन्यवाद आप अन्तर सोहिल जी को दे, यह सुचना उन्होने ही दी है. धन्यवाद

    ReplyDelete
  4. हाँ भाटिया साहब यहाँ तो गलती हो गयी मैंने आपकी तस्वीर देख कर इस पोस्ट को आपका पोस्ट समझ लिया | अंतर सोहिल जी को धन्यवाद इस जानकारी भरे पोस्ट के लिए ,भाटिया साहब आपसे एक सवाल ,क्या आप दिल्ली आ रहें है इस कॉमनवेल्थ गेम को देखने या कोई इरादा नहीं है ?

    ReplyDelete
  5. उत्साह तो है पर शंका भी है कया दिल्ली इन्फ़्रास्ट्रक्चर को लेकर नाक बचा पाएगी.

    ReplyDelete
  6. Antar Sohil sahaab , koi agency-wejency le lee kya ?

    ReplyDelete
  7. @ honesty project democracy जी नही मै इस खेल को देखने नही आ रहा, -शायद दिसम्वर मै चक्कर लगे. धन्यवाद

    ReplyDelete
  8. जानकारी देने के लिए धन्यवाद!

    ReplyDelete
  9. जानकारी के लिये आभार
    हम तो दिल्ली में ही हैं

    ReplyDelete
  10. अच्छी जानकारी .. विदेश से वापासजाने वालों को भी एहतियात रखना होगा ..

    ReplyDelete
  11. हमें तो टीवी में देख कर संतुष्ट होना होगा.

    ReplyDelete
  12. हाँ जरुर भूख से तड़पती आम जनता कि कमाई और महगाई का जश्न तो देखना ही चाहिए | इस गाने के साथ कि बरबादियो का जश्न मानता चला गया हर फ़िक्र को धुएं में उडाता चला गया |
    इस गाने से याद आया बहुत दिन हो गए अन्ताक्षरी खेले, इस बार सूचना देने के बाद इसे शुरू करें |
    रत्नेश त्रिपाठी

    ReplyDelete
  13. हम तो जी घर बैठे टीवी पर ही देख लेंगें....

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।