08/11/11

रु-ब-रु ए ब्लॉगर्स

अन्तर सोहिल का प्रणाम स्वीकार करें

आपके अपने श्री राज भाटिया जी से आप सबकी मुलाकात करवाने की तैयारी हो रही है। श्री राज भाटिया जी 14 दिसम्बर 2011 को भारत पहुँच रहे हैं। 17 से 27 दिसम्बर के बीच में कोशिश की जा रही है ब्लॉगर मित्र मिलन और कवि सम्मेलन का आयोजन सांपला में किया जाये। तो शुभकामनायें दीजिये और तैयारियां कीजिये (मेरा मतलब है नये कपडे वगैरा सिलवा लीजिये) अरे! मित्रों ब्लॉगर मित्र मिलन कोई शादी-ब्याह से कम उत्सव है क्या :-)


20 comments:

  1. बहुत दिनों के बाद राज भाटिया जी की खबर आई है ।
    आप तैयारी कीजिये , हम भी कोशिश करेंगे आने की ।

    ReplyDelete
  2. भाटिया जी का भारत में स्वागत है। वैसे हम उनका साक्षात्कार तो नहीं कर पाएंगे पर शुभ यात्रा का संदेश तो दे ही सकते हैं ना :)

    ReplyDelete
  3. भाटिया जी का अभिनन्दन और स्वागत है!

    ReplyDelete
  4. वाह क्या बात है. सुंदर पहल है ये.

    ReplyDelete
  5. शत-प्रतिशत मिलना है आपसे व भाटिया जी से भी, अब जगह सांपला हो या डासना उससे कोई फ़र्क नहीं पडता है, जिसे प्यार होगा/मिलना होगा, हर हालात में मिलने चला आयेगा। अरे भाई जरा अपने सांपला के बारे में भी बता देना जैसे कि दिल्ली से कितनी दूर बस से या रेल से कैसे आराम रहेगा, अपने जैसे सिरफ़िरे को तो कोई परेशानी नहीं, लेकिन जो लोग दूर से आना चाहेंगे उनके लिये कहे दे रहा हूँ।

    ReplyDelete
  6. वाह .. शुभकामनाएं !!
    तैयारी भी कर रहे हैं !!

    ReplyDelete
  7. राज भाटिया जी का स्‍वागत है।

    ReplyDelete
  8. भाटिया जी के शुभ प्रवास की शुभकामनाएं ...

    ReplyDelete
  9. ...स्वागत है।

    पाबला बतायें
    या बताये कोई
    ब्लॉगर बावला
    कहाँ है यह..
    सांपला?

    ReplyDelete
  10. तिलयार की बहार अभी तक याद है...अब सांपला का फ़ासला तय करना है...

    राज जी का स्वागत है...ऐसे ज़िंदादिल इनसान कम ही होंगे जो भारत में मेहमान के नाते आते हैं और खुद ही मेज़बान बन सबको बड़े प्यार से बुलाते हैं...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
  11. मैं बताता हूं कि सांपला कहां है। असल में हुआ यह कि अन्तर साहब यानी अमितजी का फोन आया, बोले कि जाट भाई, तेरी सहायता की जरुरत है। अब सहायता के नाम पर अपना जी सूख गया। पता नहीं क्या सहायता मांग लें। मैंने डरते-डरते पूछा कि साहब हुक्म करो। बोले कि भाटिया जी आ रहे हैं। तो सोच रहे हैं कि सांपला फिर से जिन्दाबाद हो जाये। मैंने कहा कि इसमें कौन सा बडी बात है। बोले कि बडी बात ये है कि तुझे सबको यह बताना है कि सांपला है कहां। अपन खुश। यह तो अपना हुनर है। अभी बताता हूं।

    ReplyDelete
  12. सांपला हरियाणा के रोहतक जिले में दिल्ली से 50 किलोमीटर दूर एक कस्बा है। अन्तर सोहिल सांपला के ही रहने वाले हैं। यहां जाने के कई तरीके हैं-
    1. अपनी गाडी/कार से: दिल्ली से रोहतक रोड पकडो। रास्ते में बहादुरगढ आयेगा। यहां की रेवडी बहुत प्रसिद्ध हैं, एक किलो रेवडी ले लो। कारण? मैं सांपला में ही बैठा मिलूंगा। यही कारण बहुत है। बहादुरगढ से 17 किलोमीटर आगे सांपला मोड है। किसी से पूछ लो कि रेलवे स्टेशन जाना है। कोई भी बता देगा। स्टेशन के पास ही आयोजन होता मिलेगा।
    2. बस से: वही दिल्ली से रोहतक की बस पकड लो। कश्मीरी गेट से मिलती हैं। और टिकट लो बहादुरगढ तक का। कारण? वही रेवडी वाला। रेवडी लो और दोबारा दूसरी बस पकडकर सांपला जा पहुंचो। आयोजन स्थल तक पैदल घिसटना पडेगा।
    3. ट्रेन से: दिल्ली से 15 ट्रेनें हैं सांपला जाने के लिये। यह सर्वोत्तम तरीका है। स्टेशन के पास ही आयोजन होता दिखेगा। ट्रेनों का टाइम टेबल मैं दे रहा हूं:
    54005 भिवानी पैसेंजर सुबह 04:40 पर, 14723 कालिन्दी एक्सप्रेस सुबह 06:20 पर, 54641 फिरोजपुर पैसेंजर सुबह 06:30 पर, 51903 रोहतक पैसेंजर सुबह 09:00 बजे, 54031 जींद पैसेंजर दोपहर 11:55 पर, 12481 श्रीगंगानगर इंटरसिटी दोपहर बाद 01:10 पर, 19023 फिरोजपुर जनता एक्सप्रेस दोपहर बाद नई दिल्ली से 01:15 पर, 14519 किसान एक्सप्रेस दोपहर बाद 02:55 पर, 54035 जाखल पैसेंजर शाम 03:25 पर, 54503 भिवानी पैसेंजर शाम 04:45 पर, 54033 जींद पैसेंजर शाम 05:20 पर, 14085 सिरसा एक्सप्रेस नई दिल्ली से शाम 06:20 पर, 54001 रोहतक पैसेंजर नई दिल्ली से शाम 06:55 पर, 13007 तूफान एक्सप्रेस नई दिल्ली से रात 08:10 पर और 74011 रोहतक पैसेंजर डीएमयू रात 08:20 पर।
    इनमें से कालिन्दी, जनता, किसान, सिरसा और तूफान एक्सप्रेस ट्रेनें है जबकि इंटरसिटी सुपरफास्ट गाडी है, बाकी सब की सब पैसेंजर हैं।
    एक बात और ध्यान रखना कि कालिन्दी और तूफान 20 दिसम्बर के बाद कोहरे के कारण रद्द कर दी जायेंगी। अगर आयोजन 20 दिसम्बर के बाद होता है तो इन दो गाडियों के भरोसे कतई ना रहें। जनता, सिरसा, 54001 और तूफान नई दिल्ली से मिलेंगी जबकि बाकी सभी गाडियां पुरानी दिल्ली से। पैसेंजर गाडियां डेढ से दो घण्टे लगाती हैं सांपला पहुंचने में जबकि एक्सप्रेस गाडियां एक से सवा घण्टा। और हां, एक बात और है कि जाट महाराज पौने सात बजे फिरोजपुर पैसेंजर में किशनगंज से चढेंगे। मूड बन गया तो कालिन्दी भी लगभग उसी टाइम आयेगी, कालिन्दी से भी परहेज नहीं करेंगे।
    4. अन्य साधन: हवाई जहाज के सपने मत देखना। मेट्रो किसलिये चलवा रखी है। लाइन 5 यानी हरी लाइन, ग्रीन लाइन पर आखिरी स्टेशन है मुण्डका। इंद्रलोक और कीर्तिनगर से सीधी मुण्डका के लिये मेट्रो मिलती है। नांगलोई और मुण्डका दोनों जगह रेलवे स्टेशन भी हैं, नहीं तो दोनों मेट्रो स्टेशन रोहतक रोड के ऊपर बने हैं। मेट्रो के नीचे से ही रोहतक वाली बस मिलती है। सांपला बीच में पडेगा। हां, बहादुरगढ को जरूर याद रखना।

    ReplyDelete
  13. भाई हम आ रहे है सांपला

    ReplyDelete
  14. भाई हम आ रहे है सांपला

    ReplyDelete

नमस्कार, आप सब का स्वागत है। एक सूचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हैं, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी है तो मॉडरेशन चालू हे, और इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा। नयी पोस्ट पर कोई मॉडरेशन नही है। आप का धन्यवाद, टिपण्णी देने के लिये****हुरा हुरा.... आज कल माडरेशन नही हे******

मुझे शिकायत है !!!

मुझे शिकायत है !!!
उन्होंने ईश्वर से डरना छोड़ दिया है , जो भ्रूण हत्या के दोषी हैं। जिन्हें कन्या नहीं चाहिए, उन्हें बहू भी मत दीजिये।